Kyun karte ho tume meri kabiliyat pe shak?
Main hun ek ladki mujhe bhi hai jeena ka haq;

Main zamaane ke saath aage badhna chahti hun,
Papa main padhna chahti hun;

Bahut se prashn apne man me hi liye hai maine sahej,
Kyun chaye meri shaadi ke liye dahej?

Main kab apni pasand ke kapde pehen paungi?
Kya humesha mai har zulm aise hi sehen karti jaungi?

Meri parvarish ke liye kyun hai aapke man me sankoch 
Main ladki hun, nahi hun koi bhoj!

– Deepak Malhotra

Hindi Translation:

क्यूँ करते हो तूमे मेरी काबिलियत पे शक?
मैं हूँ एक लड़की मुझे भी है जीना का हक़;

मैं ज़माने के साथ आगे बढ़ना चाहती हूँ,
पापा मैं पढ़ना चाहती हूँ;

बहुत से प्रश्न अपने मन मे ही लिए है मैने सहेज,
क्यूँ छाए मेरी शादी के लिए दहेज?

मैं कब अपनी पसंद के कपड़े पहेन पौँगी?
क्या हुमेशा मैं हर ज़ुल्म ऐसे ही सहेन करती जौंगी?

मेरी परवरिश के लिए क्यूँ है आपके मान मे संकोच
मैं लड़की हूँ, नही हूँ कोई भोज!

  • दीपक मल्होत्रा

Happy Women’s Day to all the women’s, stay strong, stay positive and live your life to the fullest. Everyone is so proud of you all.

Advertisements